Exam Login Happenings Online Fees Placement | Toll-Free : 1800120102102

श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय में ऐपन कला पर कार्यशाला का आयोजन

श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय में ऐपन कला पर कार्यशाला का आयोजन
एक बिंदु नई शुरुआत को दर्शाती है : रजिस्ट्रार
श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय में आर्ट एंड क्राफ्ट क्लब के द्वारा ऐपन कला पर आधारित कार्यशाला का आयोजन किया गया कार्यशाला की थीम एथिनीसिटी विद मोडिनिटी रही | जिसमें प्राचीन लुप्त होती हुई संस्कृति और कला के संवर्धन की बात की गई|
कार्यशाला के अवसर पर विश्वविद्यालय के कुलाधिपति महंत देवेंद्र दास जी महाराज ने कार्यशाला के सफल आयोजन के लिए आयोजकों को शुभकामनाएं प्रेषित की |
कार्यक्रम का शुभारम्भ कुलपति महोदय डा• उदय सिंह रावत के शुभाशीष से हुआ|
पथरीबाग कैंपस के सभागार में आयोजित कार्यशाला को संबोधित करते हुए विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार डॉ प्रोफ़ेसर दीपक साहनी ने कहा कि चावल के पेस्ट से संस्कृति को प्रोत्साहन करने की कला ऐपन के उत्तराखंड की संस्कृति में बहुत मायने हैं आर्ट एंड क्राफ्ट को उन्होंने शुभकामनाएं प्रेषित करते हुए कहा कि इस प्रकार की कलाओं के संवर्धन से और कार्यशाला के आयोजन के द्वारा छात्र छात्राओं को लुप्त होती हुई संस्कृति को और कला को जानने का अवसर मिलता है, वहीं इस प्राचीन कला को सीखने का भी अवसर मिलता है|
इस अवसर पर विश्वविद्यालय की शैक्षिक समन्वयक डॉ मालविका कांडपाल ने कार्यशाला में उपस्थित छात्र छात्राओं को संबोधित करते हुए उन्हें आर्ट एंड क्राफ्ट क्लब द्वारा आयोजित इस कार्यशाला में सीखने को प्रेरित किया| उन्होंने कहा कि तन से स्वस्थ होने के साथ-साथ मन से स्वस्थ होने से संस्कृति का संवर्धन होता है| उन्होंने छात्रों के सर्वांगीण विकास के लिए क्लब की आवश्यकता पर प्रकाश डाला|
कार्यशाला के विषय में जानकारी देते हुए आर्ट एंड क्राफ्ट क्लब के संयोजक डॉ बलबीर कौर ने कहा कि इस कार्यशाला में पूरे विश्वविद्यालय के 80 छात्र छात्राऐं प्रतिभाग कर रहे हैं| कार्यशाला में उन्हें प्राचीन कला के संवर्धन और संरक्षण पर ज्ञान दिया जाएगा| उन्होंने आर्ट एंड क्राफ्ट क्लब के सभी सदस्यों का कार्यशाला को सफलतापूर्वक संचालन करने के लिए बधाई दी | इस अवसर पर महिमा, सुनीता, शोभा, और हरजीत ने अपनी कला द्वारा उपस्थित अतिथियों और शिक्षकों का मन मोह लिया|
कार्यशाला का संचालन छात्रा रिया कुमारी द्वारा किया गया |
इस अवसर पर डॉ विपुल जैन, डॉ रामालक्ष्मी, डॉ कीर्तिमा उपाध्याय, अलका चौधरी, मिशन के समन्वयक डॉ आरपी सिंह, प्रॉक्टर श्री मनोज तिवारी मुख्य प्रशासनिक अधिकारी प्रोफ़ेसर मनोज गहलोत, रिसर्च डीन डॉ अरुण कुमार, विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक डॉ संजय शर्मा और जनसंपर्क अधिकारी भूपेंद्र रतूड़ी के साथ ही बड़ी संख्या में छात्र छात्राएं और शिक्षक और विश्वविद्यालय के सभी पदाधिकारी उपस्थित रहे|